Personalized
Horoscope

Vrishabha Masik Rashifal in Hindi - Vrishabha Horoscope in Hindi - वृष मासिक राशिफल

Taurus Rashifal

स्वास्थ्य: यदि स्वास्थ्य की बात की जाए तो होने और और सप्तम भाव पर मंगल की दृष्टि पड़ रही है तथा सप्तम भाव में केतु विराजमान है। इसकी वजह से स्वास्थ्य समस्याएं परेशान कर सकती हैं। आपको मानसिक तनाव अधिक रहेगा। वह थोड़े चिढ़चिढ़े हो सकते हैं। इससे आगे कुछ कामों में रुकावट भी आ सकती है। मंगल का गोचर 14 अप्रैल को दूसरे भाव में होने के बाद इस स्थिति से काफी हद तक आप को निजात मिल सकती है। बृहस्पति और शनि 6 अप्रैल तक नवम भाव में रहेंगे और उसके बाद बृहस्पति दशम भाव में चले जाएंगे। यह समय अपने स्वास्थ्य को अच्छा बनाने के लिए कोई नई स्वास्थ्य पहल करने का है।

कैरियर: अप्रैल का महीना आपके करियर के लिए मिश्रित परिणाम दायक साबित होगा। दशम भाव के स्वामी शनि की महीने भर नवम भाव में उपस्थिति आप से कार्यस्थल पर बहुत मेहनत करवाएगी लेकिन यही आने वाले समय में आपको सफलता प्रदान करेगी। भाग्य की प्रबलता रहेगी जिसकी वजह से आपको अपने कार्य क्षेत्र में अच्छे प्रदर्शन को दोहराने में सफलता मिलेगी। 6 अप्रैल से बृहस्पति का गोचर आपके दशम भाव में होगा। यह जहां एक तरफ आपके अनुभव और कार्यकुशलता को बढ़ाएगा, वहीं दूसरी तरफ अचानक से कार्य क्षेत्र में कोई बड़ा परिवर्तन भी ला सकता है। संभव है कि इस समय में आप अपनी नौकरी बदलें और दूसरी नौकरी ज्वाइन कर लें। इस समय में आप के वरिष्ठ अधिकारियों से आपके संबंध सामान्य रहेंगे। महीने की शुरूआत थोड़ी कमजोर होगी इसलिए थोड़ी सावधानी रखें क्योंकि इस समय में आपके संबंध अपने वरिष्ठ अधिकारियों से बिगड़ सकते हैं लेकिन महीने का उत्तरार्ध ज्यादा अनुकूल रहेगा और इन संबंधों में भी मिठास आने से समस्या से मुक्ति मिलेगी। यदि आप कोई बिजनेस करते हैं तो महीने की शुरुआत कमजोर होने की संभावना है। आप और आपके साझीदार के मध्य किसी बात को लेकर कहासुनी संभव है। इसका प्रभाव आपके काम पर भी पड़ेगा। आपकी राशि में राहु और मंगल का गठजोड़ आपका व्यवहार बदलने का कारण बन सकता है। आप थोड़ा रूखा और कड़वा बोल सकते हैं जो आपके साझीदार को पसंद नहीं आएगा और इसकी वजह से आप दोनों के बीच तनातनी हो सकती है। अपनी तरफ से प्रयास करें कि इस स्थिति से बचा जा सके। 14 अप्रैल को मंगल के मिथुन राशि में गोचर करने से इन स्थितियों में सुधार आएगा और आपके बिज़नेस की क्रियाशीलता बढ़ेगी जिसकी वजह से आप अपने करियर में आगे बढ़ने में कामयाब रहेंगे।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्रेम संबंधित मामलों के लिए महीने की शुरुआत की बेहद अच्छी रहेगी। पंचम भाव पर प्यार के देवता शुक्र की दृष्टि बुध और सूर्य के साथ होने के कारण तथा बृहस्पति की दृष्टि नवम भाव से पड़ने के कारण आपके प्यार को भाग्य का साथ मिलेगा और ईश्वरीय कृपा से आप और आपके प्रियतम के बीच निकटता में वृद्धि होगी। यह समय प्यार की पींगे बढ़ाने का समय होगा। आप एक दूसरे पर हद से ज्यादा विश्वास करेंगे और एक दूसरे के प्यार में खोए रहेंगे। 10 अप्रैल को शुक्र के राशि परिवर्तन के बाद से आपको अपने रिश्ते में प्रेम की कुछ कमी महसूस हो सकती है लेकिन आपसी कम्युनिकेशन मजबूत होगी जिसके फलस्वरूप आपका रिश्ता मधुर और मजबूत रहेगा। इस महीने आप उनके साथ कहीं घूमने-फिरने या बाहर पार्टी करने जा सकते हैं। यदि विवाहित जातकों की बात करें तो सप्तम भाव में उपस्थित केतु और उस पर मंगल तथा राहु का प्रभाव होने के कारण दांपत्य जीवन में चुनौतीपूर्ण स्थिति आ सकती है। आपको अपने जीवनसाथी का व्यवहार समझ में नहीं आएगा और उन पर शक हो सकता है या आपको ऐसा भी लग सकता है कि वह आपसे कुछ छुपा रहे हैं। यही समस्या आपके दांपत्य जीवन को बिगाड़ने में अहम भूमिका निभा सकती है इसलिए इससे बचने के लिए आपको समय-समय पर उनके साथ बैठकर बातचीत करनी चाहिए तथा यदि कोई समस्या है तो उसे समझाने का प्रयत्न करना चाहिए। महीने की शुरुआत संतान प्राप्ति के उद्देश्य से अच्छी रहेगी।

सलाह: आपको मंगलवार के दिन गेहूं और गुड़ तथा चने का दान करना चाहिए। राह के कुत्तों को भोजन खिलाना चाहिए। श्री विष्णु सहस्त्रनाम स्तोत्र का प्रतिदिन पाठ करना आपको कई समस्याओं से बचाने में सहायक रहेगा। मंगलवार के दिन किसी गार्डन में अनार का पेड़ लगाएं या लाल अनार फल दान करें। श्री गणेश जी को दूर्वांकुर अर्पित करें और उनसे जीवन में आ रही बाधाओं को दूर करने की कामना करें।

सामान्य: वृषभ राशि में जन्म लेने के कारण आप काफी मेहनती हैं और जीवन में बहुत अधिक महत्वाकांक्षाएं रखते हैं। आप जीवन में बहुत कुछ प्राप्त करना चाहते हैं लेकिन उसे प्राप्त करने के लिए आवश्यक मेहनत करने से भी आप पीछे नहीं हटते हैं। यही आपको एक खूबसूरत इंसान बनाता है। आपका साथ लोगों को रास आता है। अप्रैल का महीना आपके लिए कुछ मायनों में बेहद खास रहेगा। महीने के उत्तरार्ध में आपको विदेश जाने का बड़ा मौका मिल सकता है यानि कि विदेश जाने की इच्छा पूरी होने के योग चल रहे हैं। यदि आप विदेश जाना चाहते हैं तो अपने प्रयासों को गति दें ताकि आपको सफलता मिल सके और आप विदेशी वीजा हासिल करने में कामयाब हो जाएं। अप्रैल का महीना कई मोर्चों पर आपका ध्यान आकर्षित करेगा। आपको सबसे ज्यादा ध्यान तो अपने स्वास्थ्य पर देना पड़ेगा क्योंकि स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ सकती हैं और यदि स्वास्थ्य ही खराब हुआ तो वह आपके जीवन के लगभग सभी क्षेत्रों को प्रभावित करेगा। इससे आपके काम करने का तरीका भी प्रभावित होगा जिसकी वजह से नौकरी में समस्या पैदा हो सकती है। वहीं इसके विपरीत, यह महीना आर्थिक तौर पर आपके लिए उन्नतिदायक रहेगा। आपको एक से ज्यादा जगहों से धन की प्राप्ति के योग बनेंगे जिससे आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। आपका सामाजिक दायरा बढ़ेगा और दोस्तों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। उनके साथ पार्टी आदि में शामिल होना आपको पसंद आएगा जिससे आपका सामाजिक जीवन तेजी से आगे बढ़ेगा। बिना सोचे विचारे कुछ काम करना नुकसानदायक साबित हो सकता है इसलिए इस महीने किसी अनुभवी व्यक्ति की सलाह लेकर ही कोई काम करें।

वित्त: आर्थिक दृष्टिकोण से यह महीना बेहद अच्छा रहेगा। एकादश भाव में तीन-तीन ग्रहों की उपस्थिति और उस पर शनि की दृष्टि होने से आपका एक से ज्यादा माध्यमों से धन प्राप्ति योग बन रहा है। यही वजह है कि इस समय में आपको आर्थिक चुनौतियों से छुटकारा मिलेगा और आपके पास धन की वृद्धि होगी। हालांकि 10 अप्रैल को शुक्र के द्वादश में जाने से खर्च में बढ़ोतरी का सिलसिला शुरू हो जाएगा। उसके बाद 14 अप्रैल को सूर्य और 16 अप्रैल को बुध के भी द्वादश भाव में चले जाने से आमदनी में कुछ गिरावट आ सकती है और खर्चों में वृद्धि का ग्राफ ऊपर बढ़ सकता है। इस वजह से आप थोड़ा सा परेशान हो सकते हैं। वहीं दूसरी तरफ, 14 अप्रैल को मंगल के दूसरे भाव में गति करने और उससे पहले 6 अप्रैल को बृहस्पति के दूसरे भाव पर दृष्टि डालने के कारण आप कुछ पैसा सेविंग के रूप में भी बचा पाएंगे और अपने बैंक बैलेंस को बढ़ाने में कामयाब हो सकते हैं इसलिए यह महीना आपकी आर्थिक स्थिति को लेकर थोड़ा डांवाडोल हो सकता है। अब आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण किस प्रकार रखना है, यह जानना और उस पर अमल करना आपके लिए बेहद जरूरी होगा और यदि आप ऐसा कर पाने में कामयाब रहे तो इस महीने आर्थिक तौर पर उन्नत हो सकते हैं।

पारिवारिक: पारिवारिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो दूसरे भाव का स्वामी एकादश भाव में महीने की शुरुआत में होगा। उसके साथ सूर्य और शुक्र भी होंगे। चतुर्थ भाव पर मंगल की दृष्टि होगी। इस वजह से पारिवारिक जीवन सामान्य गति से आगे बढ़ेगा। एक शांति बनी रहेगी। घरवालों के मध्य प्रेम और स्नेह की भावना बलवती होगी। 6 अप्रैल के बाद से बृहस्पति के द्वितीय और चतुर्थ भाव पर दृष्टि डालने के कारण पारिवारिक समस्याओं से मुक्ति मिलेगी और परिवार का वातावरण भी बेहद सकारात्मक और प्रेम पूर्वक हो जाएगा। परिवार के सदस्यों को यदि कोई स्वास्थ्य समस्या चली आ रही थी तो उस से भी छुटकारा मिलेगा और सभी खुशी का इज़हार करेंगे और एक दूसरे के प्रति सामंजस्य रखने का प्रयास करेंगे। आपके छोटे भाई बहन किसी बात को लेकर मानसिक रूप से चिंता में मग्न हो सकते हैं। आपको उनसे बात करनी चाहिए और उनकी समस्या का समाधान करने की कोशिश भी करनी चाहिए। आपके बड़े भाई बहनों का योगदान आपके काम में मिल सकता है जिससे आपको बेहद अच्छा लाभ मिल सकता है।