Personalized
Horoscope

Kumbha Masik Rashifal in Hindi - Kumbha Horoscope in Hindi - कुम्भ मासिक राशिफल

Aquarius Rashifal

स्वास्थ्य: यदि स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से देखा जाए तो आपको अपने स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखना होगा। द्वादश भाव में शनि और बृहस्पति दशम भाव में केतु और चतुर्थ भाव में राहु और मंगल की स्थिति ज्यादा अनुकूल नहीं है ।आपको छाती में दर्द, जकड़न, फेफड़ों से संबंधित कोई समस्या या जलन की समस्या परेशान कर सकती है। यदि इस पर समय रहते ध्यान नहीं देंगे तो यह कोई बड़ी समस्या बन सकती है इसलिए समय रहते स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अधिक वसायुक्त भोजन से परहेज करें और नियमित समय पर भोजन करें। इससे स्वास्थ्य समस्याएं कुछ हद तक ठीक हो सकती हैं।

कैरियर: अचानक से अपना काम निकालने में सफलता मिल सकती है। आपके करियर में इस महीने बहुत कुछ होने वाला है। करियर के दृष्टिकोण से आपको बहुत सावधानी से रहना होगा। दशम भाव में केतु की उपस्थिति और उस पर मंगल और राहु का प्रभाव कार्यक्षेत्र में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनाएगा। आपका मन अपने काम में कम से कम लगेगा और आपके काम में गलती होने की भी गुंजाइश ज्यादा होगी जिसकी वजह से आप का प्रदर्शन भी प्रभावित होगा और आपको अपनी नौकरी में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसी भी संभावना है कि आपका अपने कार्यक्षेत्र में किसी से वाद-विवाद बढ़ जाए और बात मैनेजमेंट तक पहुंच जाए इसलिए बहुत सोच समझ कर काम करें और अपनी तरफ से किसी को भी ऐसा मौका ना दें कि वह आप के विरुद्ध कोई कदम उठा पाएं। 6 अप्रैल से बृहस्पति का गोचर आपकी राशि में होने से आपकी दूरदर्शिता और सोच में पारदर्शिता आएगी तथा आप अपने अनुभव का सही तरीके से लाभ उठा पाएंगे और निर्णय लेने में सक्षम होंगे। 14 अप्रैल से सूर्य के तीसरे भाव में जाने से आप का साहस और पराक्रम बढ़ेगा तथा आपके वरिष्ठ अधिकारियों से भी आपके संबंध मजबूत होंगे। इस स्थिति में आपको अपने करियर में धीरे-धीरे सुधार होता हुआ दिखाई देगा। यदि आप बिजनेस करते हैं तो आपके लिए यह महीना अच्छा रहेगा लेकिन आपको कुछ ऐसे कामों से बचकर रहना होगा जिसमें सरकारी तंत्र का विरोध झेलना पड़े। अपना टैक्स समय पर चुकायें और सभी कागजों को पूरा रखें ताकि बिजनेस में किसी तरह की कोई गलतफहमी ना हो और कोई षड्यंत्र करके आपको फँसा ना सके। यदि आप इन चीजों का ध्यान रखेंगे तो 14 अप्रैल के बाद मंगल के राशि परिवर्तन से आपको अपने बिजनेस में आशातीत सफलता मिलेगी।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्रेम संबंधी मामलों के लिए महीने की शुरूआत उत्तम रहेगी। आपको अपने रिलेशनशिप में आगे बढ़कर सोचने का मौका मिलेगा। आपके प्रियतम से आपके संबंध मधुर रहेंगे लेकिन मंगल के राशि परिवर्तन करके आप के पंचम भाव में आ जाने से आप दोनों के बीच गरमागरम बहस हो सकती है। आपका प्रियतम किसी बात को लेकर जिद पकड़ सकता है। यह जिद आप दोनों के बीच तकरार का कारण बन सकती है। आपको उन्हें शांति से समझाने की कोशिश करनी चाहिए और किसी भी वाद-विवाद से दूर रहकर ही इस रिश्ते को संभाल सकते हैं। विवाहित जातकों के लिए महीने की शुरुआत अच्छी है। जीवन साथी भी आपके कदम से कदम मिलाकर चलने की कोशिश करेगा। यह स्थिति बृहस्पति के 6 अप्रैल को राशि परिवर्तन करके आपके सप्तम भाव पर दृष्टि डालने के बाद से और भी सुदृढ़ हो जाएगी और आप और आपके जीवनसाथी के बीच का सामंजस्य बहुत मजबूत होगा। आप एक दूसरे के मन की बात जानेंगे और एक दूसरे का मूड देख कर ही कोई बात और काम करेंगे जिससे एक अच्छे दांपत्य जीवन को जी पाएंगे। सूर्य के राशि परिवर्तन से आप दोनों के बीच किसी बात को लेकर अहम का टकराव संभव होगा। इस पर जरूर ध्यान दें।

सलाह: आपको मंगलवार के दिन लाल अनार और गुड़ - चना का दान करना चाहिए। मंगलवार और शनिवार के दिन श्री सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए। शनिवार के दिन पीपल के वृक्ष के नीचे सरसों के तेल का दीपक जरूर जलाएं। पक्षियों को सतनाजा डालना भी आपके लिए लाभकारी रहेगा। शनि देव के बीज मंत्र का यथासंभव जाप करें।

सामान्य: आप वैसे तो अनुशासन पसंद व्यक्ति हैं और आपके जीवन में सफलता उम्र के कुछ अंश बीत जाने के बाद ही अर्थात मध्य आयु के आसपास प्राप्त होती है लेकिन आपकी सफलता पक्की होती है। आप बातों को छुपाने में भी माहिर होते हैं और अपने मन की बात हर किसी को जानने नहीं देते। यही वजह है कि वे आपके बारे में अच्छे से समझ नहीं पाते और फिर आप अचानक से कोई निर्णय लेते हैं जो उनको आश्चर्यचकित कर देता है। आप राजनीति के क्षेत्र में भी काफी निपुण हो सकते हैं। आपके जीवन में गंभीरता होती है। अप्रैल का महीना स्वास्थ्य पर ध्यान देने वाला होगा क्योंकि शनि देव, जो आपकी राशि के स्वामी हैं, आपके द्वादश भाव में ही रहेंगे जो आपका व्यय भाव है। इसके परिणाम स्वरूप आप के खर्चे बने रहेंगे। आपके पैर में कोई समस्या हो सकती है और आंखों से पानी बहने की शिकायत हो सकती है। खर्चो को नियंत्रण में रखने के लिए आपको अत्यधिक प्रयास करने होंगे लेकिन यदि आप विदेश जाना चाहते हैं तो इस वर्ष आपकी यह इच्छा जरूर पूरी हो सकती है। इसके विपरीत, यदि आप पहले से ही विदेश में रह रहे हैं तो यह महीना आपको बहुत अच्छी सफलता प्रदान करने वाला साबित होगा। आपको अपने प्रयासों से अपने काम को और अधिक विस्तार देकर आगे बढ़ाने में आसानी होगी। पारिवारिक जीवन इस महीने उतार-चढ़ाव के बीच गुजरेगा क्योंकि दशम भाव में केतु और चतुर्थ भाव में राहु और मंगल की युति आपको पारिवारिक मोर्चे पर व्यस्त रखेगी। माता-पिता का स्वास्थ्य भी आपकी चिंता की वजह बन सकता है। इस समय किसी भी प्रॉपर्टी में हाथ डालना लाभदायक नहीं रहेगा।

वित्त: आर्थिक दृष्टिकोण से महीने की शुरुआत हल्की रहेगी। मंगल की दृष्टि एकादश भाव पर होने से छोटी मोटी आमदनी हो सकती है लेकिन द्वादश भाव में शनि और बृहस्पति की युति होने से खर्चों में अधिकता बनी रहेगी। इसके विपरीत सूर्य, बुध और शुक्र की युति आपके दूसरे भाव में होने से आप कुछ बैंक बैलेंस बढ़ाने में भी कामयाबी पा सकते हैं और कुछ धन को अपने बिजनेस में इस्तेमाल भी कर सकते हैं। 14 अप्रैल के बाद सूर्य के राशि परिवर्तन करने से सरकारी क्षेत्र से लाभ के अच्छे योग बनेंगे।

पारिवारिक: आपके दूसरे भाव में बुध, शुक्र और सूर्य की युति है और उस पर शनि का प्रभाव है तथा चतुर्थ भाव में राहु और मंगल उपस्थित हैं। इस वजह से पारिवारिक जीवन में खुशी और सुख होने के बावजूद भी कुछ समस्याएं बनी रहेंगी। विशेष रूप से आपकी माताजी कै व्यवहार में बदलाव हो सकता है। वह थोड़ी चिढ़चिढ़ी हो सकती हैं और उनको स्वास्थ्य समस्याएं भी परेशान कर सकती हैं। इस अवधि में उनका ध्यान रखना बहुत जरूरी होगा। मंगल के राशि परिवर्तन के बाद से उनके स्वास्थ्य में सुधार देखने को मिल सकता है। इसके अलावा बुध, शुक्र और सूर्य के राशि परिवर्तन के बाद पारिवारिक जीवन में और खुशियां आएंगी। आपसी सद्भाव और प्रेम की वृद्धि होगी। आपके भाई बहनों से आपको अच्छा सुख मिलेगा लेकिन किसी ना किसी कारण आप के बीच वाद विवाद भी हो सकता है इसलिए प्रयास करते रहें कि ऐसी स्थिति का निर्माण ना हो नहीं तो इससे घर का माहौल बिगड़ सकता है। यदि आप सावधानी से चलेंगे तो अच्छे पारिवारिक जीवन को देखेंगे।